धोनी का बड़ा फैसला, वनडे और टी-20 की भी छोड़ी कप्तानी

0
696

नई दिल्ली। भारत के सबसे सफल और विश्व कप विजेता कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने वनडे और टी-20 टीमों की कप्तानी छोडऩे का फैसला किया हैं। हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ इसी महीने दोनों फार्मेट में होने वाली सीरीज में खिलाड़ी के रूप में खेलने के लिए वह उपलब्ध रहेंगे। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने बुधवार रात यह जानकारी दी। बीसीसीआई ने एक बयान जारी कर बताया कि धोनी ने बोर्ड को सूचित किया है कि वह वनडे और टी-20 फार्मेट के लिए भारतीय टीमों के कप्तान पद से हट रहे हैं। धोनी ने यह भी कहा है कि वह इंग्लैंड के खिलाफ वनडे और टी-20 सीरीज के लिए खेलते रहेंगे। यह बात बीसीसीआई की सीनियर चयन समिति को प्रेषित कर दी गई है। इंग्लैंड के खिलाफ 3 वनडे और 3 टी-20 मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीमों का चयन शुक्रवार को होना है। यह सीरीज 15 जनवरी से एक फरवरी तक खेली जाएगी। टेस्ट कप्तानी काफी पहले ही छोड़ चुके धोनी ने नए साल में कप्तानी छोड़कर सबको चौंका दिया। बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी राहुल जौहरी ने धोनी के कप्तानी छोडऩे की जानकारी देते हुए एक बयान में कहा कि हर भारतीय क्रिकेट प्रशंसक और बीसीसीआई की तरफ से मैं एमएस धोनी को सभी फार्मेट में भारतीय कप्तान के रूप में अभूतपूर्व योगदान देने के लिए धन्यवाद देता हूं। जौहरी ने कहा कि धोनी के नेतृत्व में भारतीय टीम ने नई ऊंचाइयों को छुआ और उनकी उपलब्धियां भारतीय क्रिकेट में स्वर्णाक्षरों में अंकित रहेंगी। धोनी के कप्तानी से हटने का मतलब है कि टेस्ट कप्तान विराट कोहली शुक्रवार को नए भारतीय वनडे और टी -20 कप्तान भी बन जाएंगे।

महेंद्र सिंह धोनी इसलिए हैं महान
-धोनी ने 31 अक्टूबर 2015 को जयपुर में श्रीलंका के खिलाफ वन डे में नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 183 रन बनाए थे। यह किसी भी विकेटकीपर बल्लेबाज द्वारा बनाया गया सबसे बड़ा स्कोर है।
-एक कप्तान द्वारा सबसे ज्यादा टी-20 मैच जीतने का रिकॉर्ड भी धोनी के ही नाम है।
-वनडे में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड भी महेंद्र सिंह के खाते में दर्ज है। उन्होंने 2004 से लेकर 2016 तक 283 वनडे मैचों में 197 छक्के लगाए हैं।
-283 मैचों में धोनी ने 9 शतक लगाए हैं। नंबर 7 पर बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने 2 शतक लगाए हैं, जो इस नंबर पर खेलने वाले खिलाड़ी द्वारा सबसे ज्यादा है।
-कुल 439 इंटरनैशनल मैचों में उन्होंने 152 बल्लेबाजों को स्टंप आउट किया है। अब तक कुल 3 ही एेसे विकेटकीपर हैं जिन्होंने 100 से ज्यादा खिलाड़ियों को स्टंप आउट किया है।
-73 टी-20 मैचों में धोनी ने कुल 1112 रन बनाए हैं, जो टी-20 में किसी भी कप्तान द्वारा बनाए गए सबसे ज्यादा रन हैं।
-धोनी ने विकेटकीपर रहते हुए 132 गेंदें डालीं और 1 विकेट भी लिया।
-धोनी विश्व के दूसरे एेसे कप्तान हैं, जिनकी अगुआई में देश ने 100 से ज्यादा बार वन डे में जीत हासिल की है। अक्टूबर 2016 तक भारत उनकी कप्तानी में 108 वनडे जीत चुका है।
-धोनी इकलौते एेसे भारतीय विकेटकीपर हैं जिन्होंने टेस्ट मैचों में डबल सेंचुरी बनाई है।
-धोनी विश्व के इकलौते कप्तान हैं जिन्होंने आईसीसी की तीनों ट्रॉफी-टी-20 वर्ल्ड कप, 2011 आईसीसी वर्ल्ड कप, और 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी जीती हैं।
-जबसे धोनी ने कप्तानी संभाली थी, उससे लेकर अगले 11 टेस्ट मैच तक भारत कोई टेस्ट नहीं हारा था।

LEAVE A REPLY