विश्व लीग राउंड-2 के फाइनल में चिली को शूटआउट में हरा भारत ने जीता खिताब

0
259

भारत की महिला हॉकी टीम ने वर्ल्ड लीग राउंड-2 के वेंकूवर में खेले जा रहे फाइनल मैच में चिली को शूटआउट में 3-1 से मात देकर खिताब अपने नाम कर लिया। यह मुकाबला निर्धारित समय तक 1-1 की बराबरी पर रहा था। लेकिन शूटआउट में गोलकीपर सविता ने शानदार प्रदर्शन करते हुए महज 1 गोल ही खाया। इसके साथ ही भारत ने जून-जुलाई में होने वाले महिला विश्व लीग के सेमीफाइनल में जगह पक्की कर ली है। बता दें कि यह एफआईएच महिला वर्ल्ड कप-2018 का क्वालिफायर होगा। इस खिताबी मैच में शुरुआत से ही चिली की टीम भारत पर हावी दिख रही थी। इस टीम की ओर से मारिया माल्डोनाडो ने पांचवे ही मिनट में गोल दाग दिया। यह बढ़त दूसरे क्वार्टर तक कायम रही लेकिन 41वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर की मदद से अनुपमा बार्ला ने भारत को बराबरी पर ला दिया। हालांकि 22वें मिनट में भारतीय टीम को पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करने का मौका मिला। लेकिन इसमें टीम को सफलता हाथ नहीं लगी। यहां से कोई भी टीम निर्धारित समय के अंदर नया गोल दागने में कामयाब नहीं हो सकी। दोनों टीमों के बीच कड़ा संघर्ष देखने को मिला और इसी के चलते मैच पेनल्टी की ओर चले गया। इसमें दोनों टीमों को 3-3 शूटआउट के मौके दिए गए। इसमें भारत की ओर से मोनिका, दीपिका और कप्तान रानी ने तीन गोल दागे, जबकि चिली की ओर से कैरोलिन ग्रासिया ही गोल करने में कामयाब रहीं। सेमीफाइनल में कप्तान रानी और गुरजीत के शानदान प्रदर्शन के दम पर टीम इंडिया ने बेलारूस को 4-0 से हराया था, जबकि चिली ने उरुग्वे को 2-1 से हराकर फाइनल में अपना स्थान पक्का किया था। इस जीत पर भारतीय टीम की कप्तान रानी ने कहा कि ‘मैच जीतकर हम बहुत खुश है. चिली एक मजबूत टीम है। मैच में पिछड़ने के बाद वापसी करना काफी अच्छा रहा। उम्मीद है ये प्रदर्शन वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल में भी जारी रहेगा’।

LEAVE A REPLY