अच्छी सेहत के लिए फ्रूट्स से कीजिये दोस्ती

0
104

फल खाने से आपको अनगिनत स्वास्थ्य लाभ होते हैं। जैसा कि आप जानते हैं अगर आप रोजाना एक सेब खाते हैं, तो आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं होती है। सेब ही नहीं आपको रोजाना कम से कम तीन फलों का सेवन करना चाहिए। फल खाने से ना केवल आपका वजन कम होता है बल्कि कई गंभीर बीमारियों से बचने में मदद मिलती है। अगर आपको फल खाना पसंद नहीं है, तो हम आपको कुछ तरीका बता रहे हैं, जिनके जरिए आप आसानी से फलों को अपने रोजाना के खाने में शामिल कर सकते हैं।
केवल फल ही नहीं फलों का जूस पीने से भी आपको तमाम लाभ होते हैं। इसके अलावा आप फ्रूट्स की स्मूदी भी ट्राई कर सकते हैं। सुबह के समय केला, बेरी, आम, पपीता आदि फलों की स्मूदी पीने से आपको अधिक फायदा होता है। स्मूदी का टेस्ट और पोषण बढ़ाने के लिए आप स्मूदी में शुगर की बजाय शहद और ड्राई फ्रूट्स मिला सकते हैं।
रोजाना सादे फल खाने से आप बोर हो सकते हैं। इसके बजाय आप फ्रूट्स चाट बनाकर खा सकते हैं। कई फलों को काटकर एक बड़ी प्लेट में रख लें और ऊपर से मसाला डालकर खाएं। भला फलों का पोषण प्राप्त करने के लिए इससे हेल्दी और टेस्टी तरीके कुछ हो सकता है क्या?
जब आप सलाद बनाते हैं, तो उसमें कुछ फल भी शामिल करें। तरबूज और फेटा चीज का सलाद एक क्लासिक कॉम्बो है लेकिन आप सलाद में लेट्युस के पत्ते, प्याज, ककड़ी, सेब, अखरोट, अनानास आदि भी शामिल कर सकते हैं। यकीनन फ्रूट्स और वेजिटेबल का सलाद आपको पसंद आएगा।
वैसे फ्रूट्स जूस इतना बेहतर विकल्प नहीं है जितने की फल होते हैं, क्योंकि इससे आपको फाइबर नहीं मिल पाते हैं। इसलिए जूस बनाते समय आपको कई फलों का इस्तेमाल करना चाहिए। आप अंगूर, अनार, सेब आदि को मिलाकर जूस बना सकते हैं। इससे आपको विभिन्न फलों के लाभ मिल जाएंगे। आपको अपने जूस में शुगर नहीं मिलानी चाहिए क्योंकि फलों में पहले से ही नैचुरल शुगर होती है।
फल खाने के लिए कोई एक समय निर्धारित कर लें। शाम का समय फल खाने के लिए सांसे सही होता है। जब आप एक समय निर्धारित कर लेंगे, तो यकीन मानिए आप रोजाना फल खाना शुरु कर देंगे।
जरूरी नहीं है कि आप सभी फलों को फ्रिज में रखें. कुछ फल ऐसे होते हैं, जिन्हें आप फ्रूट्स बास्केट में रख सकते हैं। इससे वो आपको आकर्षित करते हैं। यानि जब आपका मन भी नहीं होता, तब भी आप फल खाने को मजबूर हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY