गंदगी फैलाने वालों को वंदे मातरम बोलने का हक नहीं : नरेंद्र मोदी

0
64

नई दिल्ली। स्वामी विवेकानंद के शिकागो भाषण के सवा सौ साल पूरे होने के मौके पर दिल्ली के विज्ञान भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी याद में एक छात्र सम्मेलन को संबोधित किया और कहा कि सवा सौ साल पहले का 9/11 विश्व विजय दिवस था। उस दिन स्वामी विवेकानंद ने दुनिया को नया रास्ता दिखाया। वे समाज की हर बुराई के खिलाफ आवाज उठाते थे। उन्होंने पश्चिम को भारत की आध्यात्मिकता से परिचय कराया था। इसके लाइव टेलिकास्ट के लिए यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन ने पहले ही सर्कुलर जारी किया था। स्वामी विवेकानंद द्वारा कहे गए शब्द- ‘माइ ब्रदर्स एंड सिस्टर्सÓ से दुनिया को भाइचारे का संदेश मिलता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि 1893 का 9/11 प्रेम, सौहार्द और भाइचारे के बारे में था। स्वामी विवेकानंद ने सामाजिक बुराईयों के खिलाफ आवाज उठायी थी। पीएम ने कहा, आज 9/11 है जिसके बारे में 2001 के बाद काफी चर्चा हुई लेकिन एक 9/11 1893 का है जिसे हम याद करते हैं। दरअसल स्वामी विवेकानंद के शिकागो भाषण के सवा सौ साल पूरे होने के मौके पर दिल्ली के विज्ञान भवन में पीएम मोदी ने उनकी याद में एक छात्र सम्मेलन को संबोधित किया और कहा कि सवा सौ साल पहले का 9/11 विश्व विजय दिवस था। विवेकानंद के शिकागो भाषण की दुनिया भर में चर्चा हुई। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, छात्र राजनीति की दिशा चिंतन का विषय है। उम्मीदवारों ने कभी कैंपस साफ रखने की बात नहीं की। इसके बाद उन्होंने छात्रों से अपील की कि यूनिवर्सिटी चुनावों के लिए अभियान के दौरान वे स्वच्छता पर ध्यान दें। नियमों का पालन करें तो भारत शासन करेगा। उन्होंने कहा स्वामी विवेकानंद ने वन एशिया का कंसेप्ट दिया था। उन्होंने कहा था कि विश्व की मुश्किलों का हल एशिया से आएगा। इससे पहले रविवार को ट्वीट कर इस संबोधन के थीम ‘यंग इंडिया न्यू इंडिय की जानकारी दी थी।
प्रधानमंत्री ने युवाओं को देश की सबसे बडी ताकत बताते हुए कहा, देश की 65 फीसद आबादी युवा है। प्रधानमंत्री ने नौजवानों को प्रोत्साहित करते हुए कहा, ‘असफलता ही सफलता का रास्ता बनाती है, इसलिए असफलताओं से डरना बंद करें। नौजवान काम मांगने वाला नहीं बल्कि नौकरी देने वाला बने। क्या खाना क्या न खाना हमारी परंपरा नहीं। देश में भीख मांगने वाला भी तत्व ज्ञान से भरा है। वे कहते हैं आप मुझे दो, आपको भगवान देगा, मुझे नहीं भी देते हो तो भी भगवान आपका भला करेगा।’

LEAVE A REPLY