सरकारी स्कूलों में 9वीं में प्रवेश पर बेटियों को मिलेगी 3000 की एफडी

0
76

पहले एफडीआर मिलेगी, फिर 18 साल पूरे होने पर ब्याज सहित भुगतान

पाली। सरकारी स्कूल में आठवीं पास करने वाली एससी-एसटी वर्ग की छात्राओं को शिक्षा विभाग स्कॉलरशिप देगा। इसमें कई शर्तें भी हैं, जिनकी पात्रता के बाद ही स्कॉलरशिप मिलेगी। शिक्षा विभाग के इस कदम को सरकारी स्कूलों में नामांकन बढ़ाने, ड्रॉप आउट रोकने की नजर से देखा जा रहा है। आठवीं पास करने के बाद अनेक छात्राएं आर्थिक अन्य कारणों से स्कूल ड्रॉप आउट कर देती हैं। ऐसी छात्राएं आगे भी पढ़ सकें, इसके लिए यह योजना कारगर साबित हो सकती है।
स्कॉलरशिप के रूप में 3000 रुपए की एफडीआर देय होगी। बाद में इसका ब्याज सहित भुगतान सीधे छात्रा के खाते में होगा। नियमों के मुताबिक आठवीं पास करने वाले छात्रा 9वीं में सरकारी स्कूल में ही अध्ययनरत होनी चाहिए।
इसके अलावा 31 मार्च 2017 को छात्रा की आयु 16 वर्ष से कम हो। इन शर्तों पर खरी उतरने वाली छात्राएं इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन कर सकेंगी। इसके अलावा वे छात्राएं भी आवेदन करने के योग्य होंगी, जिन्होंने कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय से आठवीं कक्षा उत्तीर्ण की है। इसमें एससी, एसटी, ओबीसी व सामान्य वर्ग की छात्राएं पात्र होंगी। विशेष बात यह है कि इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन करने वाली छात्रा के माता-पिता की आय का कोई संबंध नहीं होगा। उनसे आय प्रमाणपत्र नहीं मांगा जाएगा। बालिका प्रोत्साहन योजना के तहत यह स्कॉलरशिप मिलेगी। इसमें आवेदन करने के बाद पात्र होने की स्थिति में स्कॉलरशिप के रूप में एफडीआर दी जाएगी। अठारह वर्ष की आयु पूरी करने, दसवीं कक्षा उत्तीर्ण करने पर पात्र छात्रा के बैंक खाते में ब्याज सहित भुगतान किया जाएगा। पात्रता की शर्तों में 18 वर्ष आयु पूर्ण करना व नियमित अध्ययन को भी शामिल किया गया है।
30 सितंबर तक होंगे ऑनलाइन आवेदन
इसके लिए ऑनलाइन आवेदन 30 सितंबर तक होंगे। सभी स्कूलों के संस्था प्रधानों को अपने स्कूल की पात्र छात्राओं का आवेदन नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन करना होगा। इसके बाद विद्यालयों, जिला स्तर पर ऑनलाइन आवेदनों के वेरिफिकेशन 15 अक्टूबर तक करने होंगे। हर जिले में जिला शिक्षा अधिकारी नोडल ऑफिसर होंगे, जो ऑनलाइन फीडिंग की मॉनिटरिंग एवं वेरिफिकेशन करेंगे। अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति के आवेदन नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन भरे गए थे। उस समय सभी स्कूलों को लॉगिन आईडी पासवर्ड जारी किया गया था। यही आईडी पासवर्ड बालिका प्रोत्साहन योजना सत्र 2017-18 एसनएमएमएस योजना 2017-18 के लिए मान्य होंगे। संस्था प्रधान इसका इस्तेमाल करके छात्राओं के आवेदन ऑनलाइन कर सकेंगे।

LEAVE A REPLY