पायलट ने भरवाया रघु शर्मा को फार्म, बोले जीतेंगे चुनाव में तीनों सीट

0
157

अजमेर
अजमेर लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार डॉ. रघु शर्मा ने बुधवार को नामांकन दाखिल किया। पूर्व सीएम अशोक गहलोत , प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट सहित कांग्रेसियों का कलक्ट्रेट में जमावड़ा रहा। नामांकन के बाद गहलोत और पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। जनता केंद्र और प्रदेश सरकार के विकास के खोखले दावों से ऊब चुकी है। उन्होंने दावा किया उपचुनाव में तीनों सीट पर कांग्रेस की जीत सुनिश्चित है। विधानसभा चुनाव से पहले हो रहे सेमीफाइनल में कांग्रेस कामयाब रहेगी।
जोशो-खरोश और नारेबाजी के बीच अजमेर संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. रघु शर्मा श्रीनगर रोड स्थित कार्यालय से कलक्ट्रेट पहुंचे। इस दौरान जगह-जगह उनका स्वागत किया गया। कलक्ट्रेट में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट, अजमेर के प्रभारी प्रमोद जैन भाया, शहर कांग्रेस अध्यक्ष विजय जैन, देहात कांग्रेस अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह राठौड़ सहित अन्य नेता मौजूद रहे।पायलट ने प्रस्तावक बनाकर डॉ. शर्मा का फार्म भरवाया। जिला कलक्टर गौरव गोयल ने नामांकन पत्र की जांच कर उसे जमा किया। कलक्ट्रेट कार्यालय के बाहर कांग्रेसियों का जमावड़ा नजर आया। एआईसीसी महासचिव और राजस्थान के प्रभारी अविनाश पांडे, मोहन प्रकाश, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, गिरिजा व्यास, विवेक बंसल सहित पूर्व सांसद पूर्व मंत्री पूर्व विधायक मौजूद रहे। नामांकन के बाद श्रीनगर रोड पर आयोजित सभा में पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि भाजपा के चार साल के कुशासन से जनता त्रस्त हो चुकी है। कांग्रेस राज की मुफ्त दवा, पैंशन और अन्य योजनाओं को भाजपा सरकार ने बंद कर दिया। 2013 में शिलान्यास के बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बाडमेर में रिफाइनरी का दोबारा उद्घाटन कराया जा रहा है। महिला मुखिया होने के बावजूद राज्य में महिलाओं-बालिकाओं सहित अपराध का ग्राफ बढ़ा है। कभी सरकार के मंत्रियों की अपराधियों से मुलाकात की बातें आती हैं। गृहमंत्री तो कई बार अपनी लाचारी जता चुके हैं। सातवें वेतनमान को लेकर सरकार ने कर्मचारियों से मजाक किया है।
सरकार चहेते अफसरों और खान महाघोटाले के आरोपितों को बचाने के लिए काला कानून लाने जा रही थी। कांग्रेस और जनता के पुरजोर विरोध के बाद उसे कदम पीछे खींचने पड़े। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पायलट ने कहा कि प्रदेश में किसानों की हालत खराब है। यूरिया की किल्लत बनी हुई है। तत्कालीन कांग्रेस राज की महत्वाकांक्षी और जनहित योजनाओं का भाजपा ने चौपट कर दिया। चार साल बाद मुखिया को अजमेर और अन्य जिलों की याद आई। आनन-ाफानन में जनता के बजाय विभिन्न जातियों के प्रतिनिधियों से संवाद किया। मंत्री और भाजपा के विधायक कभी अफसर तो कभी कर्मचारियों को धमकाते रहते हैं। इस सरकार की काउन्ट डाउन शुरू हो गई है। प्रदेश में हो रहे तीनों उपचुनाव में कांग्रेस बड़ा उलटफेर करेगी। राजनीतिक जानकारों का कहना है कि पहले जुलूस के साथ शर्मा का नामांकन भरने का भी मानस बनाया था लेकिन चुनाव आचार संहिता के चलते इसमें बदलाव किया गया। नामांकन के दौरान कार्यकर्ताओं की भीड़ व जोश में आचार संहिता का उल्लंघन न हो इसके लिए यह एहतियात बरता गया। कांग्रेस पार्टी प्रत्याशी शर्मा अपना नामांकन निर्धारित मुहूर्त में ही दाखिल किया। इसके लिए वह पंडित की ओर से बताए समय से 15 मिनट पहले ही निर्वाचन अधिकारी के कक्ष में उपस्थित हो गए। इस दौरान वरिष्ठ नेता व चुनिंदा पदाधिकारी उनके साथ मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY