गैंगस्टर लॉरेंस और हीरा से पूछताछ के लिए सरदारपुरा थाने की किलाबंदी

0
24

भारी सुरक्षा के बीच दोनों से आमने-सामने बैठा कर हो रही पूछताछ, थाने का मेन गेट बंद कर अंदर और बाहर हथियार बंद जवान तैनात
जोधपुर। रंगदारी के लिए मोबाइल व्यवसायी वासुदेव इसरानी की गोली मारकर हत्या करने के मुख्य आरोपी लॉरेंस विश्नोई व हरेंद्र जाट से आमने-सामने बैठाकर सरदारपुरा पुलिस थाने में पूछताछ की जा रही है। लॉरेंस के फरार होने की आशंका को लेकर जोधपुर पुलिस इतनी खौफजदा है कि मुख्य गेट चेन लगा बंद कर थाने के अंदर-बाहर हथियार बंद पुलिसकर्मी तैनात किए गए है। आने-जाने वालों से पूछताछ करके ही अंदर जाने दिया जा रहा है।
लॉरेंस व हरेंद्र शहर में एक ट्रेवल एजेंसी संचालक, निजी अस्पताल के मालिक व कई व्यापारियों से रंगदारी के लिए धमकाने और फायरिंग कर दहशत पैदा कर चुके है। दोनों ने सरदारपुरा में ही मोबाइल व्यवसायी वासुदेय इसरानी की हत्या करवा दी थी। पुलिस लॉरेंस को पंजाब से जोधपुर लेकर आई है। दस दिन के रिमांड के दौरान पहले शास्त्रीनगर पुलिस और अब सरदारपुरा पुलिस पूछताछ कर रही है। इस मामले में इसरानी को धमकाने वाले हरेंद्र जाट को भी पुलिस ने कल जोधपुर जेल से प्रोडक्शन वारंट पर अरेस्ट किया है। आज उसे और लॉरेंस को आमने-सामने बिठाकर इसरानी से रंगदानी मांगने, नहीं देने पर धमकाने और शूटर भेजकर हत्या करने के मामले में पूछताछ की जा रही है। सरदारपुरा थाने में आज दिन के समय भी मेन गेट को चेन लगाकर बंद करने के साथ ही यहां पर हथियार बंद सुरक्षाकर्मी पहरा दे रहा है। सुरक्षाकर्मी आने जाने वाले आगंतुकों से पूरी डिटेल लेकर उसे थाना परिसर में एंट्री दे रहे है।
गौरतलब है कि पुलिस को लॉरेंस और उसके साथियों के फरार होने की सूचना मिल रही है। इसको लेकर पुलिस भी खौफ में है। इस वजह से लॉरेंस को कड़ी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच रखा जा रहा है। यहां तक जोधपुर जेल में बंद उसके सत्रह साथियों को भी अलग-अलग बैरक में कड़े पहरे में रखा जा रहा है। गौरतलब है कि उसने बीते दिनों कोर्ट परिसर में मीडिया से बातचीत करते हुए सलमान की हत्या करने की धमकी दी थी। साथ की कहा था कि अभी तो भागने की मंशा नहीं लेकिन जब मन किया तो निकल जाएगा।

LEAVE A REPLY