आप का आरोप: कांग्रेस-बीजेपी सराकारों ने 1984 सिख कत्लेआम के आरोपियों को बचाने का काम किया

0
26

नई दिल्ली
आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस-बीजेपी की सराकारों ने 1984 सिख कत्लेआम के आरोपियों को बचाने का काम किया है। आप के मुताबिक अब सिर्फ सुप्रीम कोर्ट से ही उम्मीद है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद संजय सिंह ने कहा कि लगभग तीस साल तक कांग्रेस और बीजेपी इस नरसंहार के दोषियों को बचाने की पूरी कोशिश करती रही। उन्होंने कहा कि पहली बार आम आदमी पार्टी की 49 दिन की सरकार में निष्पक्ष जांच के लिए एसआईटी का प्रस्ताव दिल्ली के एलजी को भेजा था। हमारी सरकार जाने के बाद एक साल तक एसआईटी पर कोई पहल नहीं हुई।
संजय सिंह ने कहा कि फरवरी 2015 में दिल्ली विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद मोदी सरकार ने केजरीवाल सरकार के शपथ ग्रहण से एक दिन पहले आनन फानन में एसआईटी का गठन कर दिया। आप नेता ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार की एसआईटी की पूरी तरह से पोल खोल दी है क्योंकि मोदी की एसआईटी ने पिछले तीन साल से कोई प्रगति नहीं की है। पार्टी नेता और पूर्व विधायक जरनैल सिंह ने कहा कि हमारी अपील है कि सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में ही इन मामलों की जांच और सुनवाई होनी चाहिए जैसा कि गुजरात दंगा मामलों में किया गया था।

LEAVE A REPLY