ऑस्ट्रेलिया में भी धमाल मचा रहे हैं जूनियर तेंदुलकर

0
146

सिडनी। महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के 18 साल के लडक़े ने आस्ट्रलिया में स्प्रिट ऑफ ग्लोबल चैलैंज में भाग लेते हुए सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर गेंद और बल्ले दोनों से शानदार प्रदर्शन किया है। टी20 मैच में भारत के क्रिकेटर्स क्लब की ओर से बतौर ओपनर खेलते हुए अर्जुन ने अपने धुंआधार प्रदर्शन से केवल 27 गेंदों पर 48 रन बना डाले। इतना ही नहीं अर्जुन ने गेंद से कमाल दिखाया जिसमें उसने चार विकेट झटक डाले। अर्जुन ने मैच के बाद कहा, मैं बचपन से ही तेज गेंदबाजी को पसंद करता रहा हूं। मुझे लगा कि भारत में तेज गेंदबाज ज्यादा नहीं है। बड़े होने के साथ साथ में मजबूत भी हो रहा हूं मैं भारत के लिए एक तेज गेंदबाज के रूप में पहचान पाना चाहता हूं। गौरतलब है कि क्रिकेट करियर की शुरुआत में सचिन तेंदुलकर बतौर तेज गेंदबाज ही अपना करियर बनाना चाहते थे और इसके लिए वे डेनिस लिली के फाउंडेशन कार्यक्रम में भाग लेने भी गए थे। लिली ने उन्हें सलाह दी थी कि उनकी (सचिन की) हाईट कम है और उन्हें बल्लेबाजी पर ध्यान देना चाहिए। इस सलाह ने सचिन की जिंदगी बदल दी और एक महान बल्लेबाज बनने की नींव डाल दी। ऐसा लग रहा है कि अर्जुन अपने पिता का वह अधूरा सपना पूरा कर लेंगे। अर्जुन तेंदुलकर का एक पेसर के रूप में उभरना लगातार जारी है। हर मैच के साथ वह बेहतर हो रहे हैं। कूच बिहार ट्रॉफी का अंडर 19 के अपने हालिया मैच में 18 वर्षीय अर्जुन तेंदुलकर ने शानदार गेंदबाजी करते हुए मुंबई टीम के लिए रेलवे के खिलाफ खेलते हुए पांच विकेट झटक लिए। इसके अलावा एक अन्य मैच में भी अर्जुन ने 11 ओवर में 44 रन देकर पांच विकेट लिए। वहीं असम के खिलाफ भी मुंबई की तरफ से अर्जुन ने चार विकेट लिए, जिसके चलते वह असम को एक पारी और 154 रनों से पराजित कर पाए। उससे पहले भी अर्जुन ने मध्य प्रदेश के खिलाफ इसी टूर्नामेंट में 5 विकेट लिए थे।

LEAVE A REPLY