रोगों से मुक्ति के लिए जमाए गए एलोवेरा का प्रयोग कारगर

0
84

जब पाचन तंत्र को शुद्ध करने की बात आती है तो एलोवेरा का स्थान सबसे पहले आता है। खोजों से पता चला है कि यदि एलोवेरा को फ्रोजन करके उपयोग में लाया जाए तो इसका अधिक प्रभावी तरीके से उपयोग किया जा सकता है तथा इससे स्वास्थ्य को भी बहुत अधिक लाभ होते हैं। यदि एलोवेरा बहुत अधिक समय तक धूल, हवा या यूवी किरणों के संपर्क में रहता है तो इसका प्रभाव समाप्त हो जाता है। इस पौधे को गर्म करके और फिर उसे एक कंटेनर में साधारण तापमान पर स्टोर करके रख सकते हैं। परन्तु शोधों से पता चलता है कि इस पौधे को फ्रिज करके इसका प्रभावी तरीके से उपयोग किया जा सकता है। इस तरीके से आप एलोवेरा से अधिकाधिक स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
तो यदि आप एलोवेरा से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानना चाहते हैं तो आगे पढ़ें। एलोवेरा को फ्रिज करने के लिए आपको पहले चाकू से इसकी बाहरी स्किन निकालनी होगी। स्किन निकालने के बाद चम्मच की सहायता से पारदर्शी परत को निकालें और एक प्लास्टिक के डिब्बे में स्टोर करें। इस डिब्बे को फ्रिजर में रख दें। फ्रोजन एलोवेरा से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानने के लिए आगे पढ़ें।
1. जलने की छोटी चोटों में उपयोगी: एलोवेरा में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो घाव जल्दी भरने और नई कोशिकाओं के बनने में सहायक होते हैं।
2. हार्ट बर्न से आराम दिलाता है: जी हाँ, यह सच है कि एलोवेरा हार्ट बर्न से आराम दिलाता है। फ्रोजन एलोवेरा स्वास्थ्य के लिए अधिक लाभदायक है क्योंकि इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण, विटामिन्स, मिनरल्स और एमिनो एसिड्स होते हैं। यह पाचन को बढ़ाता है, शरीर से विषारी पदार्थ बाहर निकालता है और इस प्रकार हार्ट बर्न से आराम दिलाता है।
3. घावों में संक्रमण होने से रोकता है: एलोवेरा में एंटी बैक्टीरियल गुण प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं तथा यह त्वचा की रक्त वाहिकाओं में रक्त के परिसंचरण को बढ़ाने में सहायक होता है। यह खराब बैक्टीरिया को नष्ट करने में सहायक होता है और घावों में संक्रमण होने से रोकता है।
4. वेरीकोस वेंस के उपचार में सहायक: एलोवेरा में दर्दनाशक गुण होते हैं अत: यह वेरीकोस वेंस का एक प्रभावी उपचार है।
5. फुंसियों से आराम दिलाता है: एलोवेरा में फाइटोकेमिकल्स पाए जाते हैं जो गर्मी के कारण त्वचा की होने वाली प्रतिक्रिया की रोकथाम करते हैं। एलोवेरा का यह गुण फुंसियों और खुजली से राहत दिलाता है।
6. फंगस से राहत दिलाता है: एलोवेरा में विटामिन्स और पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो फंगस को दूर करते हैं। इसके कोई दुष्परिणाम नहीं होते तथा तुरंत आराम पाने के लिए प्रभावित क्षेत्र पर एलोवेरा सीधे लगाया जा सकता है।
7. त्वचा की समस्याओं के उपचार में सहायक: एलोवेरा में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो सन बर्न और त्वचा की अन्य समस्याओं के उपचार में सहायक होते हैं। एलोवेरा जैल में दो हार्मोन्स ऑक्सिन और गिब्बेरेल्लिंस पाए जाते हैं। यह घाव भरने में सहायक होते हैं और त्वचा की जलन को भी कम करते हैं।
8. त्वचा को नम रखता है: एलोवेरा में एंटीऑक्सीडेंटस जैसे बीटा-कैरोटीन, विटामिन सी और ई पाए जाते हैं जो त्वचा की दृढ़ता को बनाये रखते हैं और इसे नम रखते हैं।

LEAVE A REPLY