बिना पार्किंग वाली कारों पर 2500 रु. वसूली के आदेश से शहर में मचा हडक़ंप

0
43

जोधपुर। शहर में करीब 1 लाख से अधिक कारें घर में पार्किंग व्यवस्था नहीं होने की वजह से घरों के बाहर सडक़ों पर खड़ी रहती है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद झूठे शपथ पत्र देकर गाडिय़ां सडक़ों पर बेरोकटोक खड़ी जा रही है। जिसको लेकर राजस्थान हाईकोर्ट ने सोमवार को आदेश पारित करते हुए यह जिम्मा जोधपुर नगर निगम को दिया गया है। अब देखना यह होगा कि क्या नगर निगम आदेशों की पालना करवा पाएगा या नहीं। गौरतलब है कि हाईकोर्ट ने बिना पार्किंग वाली गाडिय़ां से हर महीने ढ़ाई हजार रूपए जुर्माना देने के आदेष दिए है।
जैसा कि राजस्थान हाईकोर्ट द्वारा पूर्व में पार्किंग शपथ पत्र बतौर चौपहिया वाहन खरीदने के आदेश हुए मगर इसके बाद भी झूठे शपथ पत्रों के माध्यम से शहर में वाहन खरीददरों द्वारा गाडिय़ां परचेज की गई। जिसको लेकर भी परिवहन विभाग द्वारा आदेश के बाद एक भी गाड़ी का रजिस्ट्रेशन बाबत सत्यापन नहीं किया गया और दिन ब दिन गाडिय़ों की भरमार सडक़ों पर होती रही। जिस पर हाईकोर्ट ने एक जनहित याचिका में इस मुद्दे को गंभीरता से लेते हुए उक्त आदेश की पालना में शहर के परिवहन विभाग के अधिकारियों को झूठे शपथ पत्रों की जांच करने के साथ ही सत्यापन रिपोर्ट प्रस्तुत करने के आदेश पारित किए है। जिसको लेकर भी परिवहन विभाग के अधिकारियों में हडक़ंप मचा हुआ है।
हर कॉलोनी में सैकड़ों गाडिय़ां : शहर की प्रत्येक कॉलोनी में सेकड़ों चौपहिया वाहन सडक़ों पर ही पड़े रहते है, जबकि इन सभी व्यक्तियों द्वारा उक्त वाहन की खरीद के समय वाहन की पार्किंग का शपथ पत्र दिया गया था। जिसके कारण आमजन को भारी समस्या का सामना करना पड़ता है। इसके साथ ही शहर में ऑटो रिक्शा चालक भी रात में अपने ऑटो रिक्शा सडक़ों व फुटपाथों पर रखते है। जिसके कारण पूरी सडक़े मानों इन चौपहिया व तीपहिया वाहन से अव्यवस्था का आलाम पसरा रहता है।
यह भी है बड़ी समस्या : वाहन खरीदकर्ता द्वारा उक्त वाहन के खरीद के समय तो वाहन एजेंसी में पार्किंग का शपथ पत्र दिया जाता है, मगर उक्त वाहन को दुबारा बेचने पर उक्त सैकेंड व्यक्ति पर इसकी कोई प्रक्रिया लागू नहीं होना भी बड़ी परेशानी है। जिस कारण शहर में सैकेण्ड हैंड गाडियों की भरमार ज्यादा हो रही है।
नो पार्किंग में खड़ी गाडिय़ों पर कार्यवाही करेंगे
राजस्थान उच्च न्यायालय ने शहर के विभिन्न स्थानों पर बिना पार्किंग खड़े वाहनों को हटाने के आदेश दिए गए है। यातायात पुलिस व नगर निगम द्वारा संयुक्त रूप से कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।- घनश्याम ओझा, महापौर

LEAVE A REPLY