झूठ बोलकर शादी व धर्म परिवर्तन कराने पर अब जाना होगा जेल

0
33

देहरादून। उत्तराखंड में अब झूठ बोलकर धर्म परिवर्तन करना अब अपराध होगा। त्रिवेन्द्र कैबिनेट ने धर्म स्वतंत्रता विधेयक को मंज़ूरी दे दी है। इसके तहत अब झूठ बोलकर धर्म परिवर्तन करवाना अपराध की श्रेणी में आएगा। इसके तहत 2 महीने से एक साल तक की सजा को प्रावधान है। झूठ बोलकर धर्म परिवर्तन साबित होने पर विवाह को अमान्य घोषित किया जाएगा। माना जा रहा है कि लव जेहाद के मामलों को रोकने के लिए यह फ़ैसला लिया गया है।
कैबिनेट की बैठक में इस मुद्दे पर मुहर लगाईं गई। कैबिनेट ने  एससी एसटी के मामले में दोगुनी सज़ा का प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही, कैबिनेट ने प्रदेश में होम स्टे योजना लागू करने को मंज़ूरी दे दी है। 2020 तक 5000 लोगों को योजना का लाभ मिलने की उम्मीद है। होम स्टे योजना के तहत  एक से 6 कमरे तक योजना के तहत सरकार सब्सिडी देगी। कई अह्म प्रावधान भी योजना के तहत किए गए हैं। होम स्टे के तहत पर्वतीय क्षेत्र के लोगों को फायदा मिलेगा, मैदानी इलाकों के लिए भी योजना के तहत प्रा‌वधान किए गए हैं।
कैबिनेट ने वन सेवा नियमावली को मंज़ूरी दे दी है। अब आयु सीमा 24 की जगह 28 वर्ष कर दी गई है। सभी संकाय के अभ्यर्थी आवेदन कर सकेंगे। वहीं, डिजिटल इंडिया के तहत राइट ऑफ वे को कैबिनेट की मंज़ूरी मिल गई है। पैरा मेडिकल में प्रवेश परीक्षा कराने के प्रस्ताव को भी कैबिनेट ने मंज़ूर कर लिया है।

LEAVE A REPLY