सेवानिवृत्त शिक्षिका के भरोसे जेएनवीयू का संगीत विभाग

0
33

पीजी विद्यार्थियों के भविष्य पर लटकी तलवार
जोधपुर। जय नारायण व्यास विश्वविद्यालय के संगीत विभाग में अध्यनर च्ळ विद्यार्थियों के भविष्य से विश्वविद्यालय खिलवाड़ करता दिख रहा है जहां करीब 7 माह से भी अधिक समय से संगीत विभाग मात्र एक सेवानिवृत्त शिक्षकों के भरोसे ही चल रहा है जहां पूर्व में मात्र 2 शिक्षकों मैं से पूर्व विभागाध्यक्ष डॉक्टर सुरेंद्र कुमार 2013 विवादित शिक्षक भर्ती में जेल की हवा भी खा चुके हैं जिसके कारण शिक्षक पद भी गंवा चुके हैं वह उनके बाद निवर्तमान शिक्षिका डॉक्टर सुहासिनी 6 माह पूर्व सेवानिवृत्त होने के बाद गेस्ट शिक्षक के रूप में अपनी सेवाएं दे रही हैं जबकि संगीत विभाग में 2 सेक्शन इंस्ट्रुमेंटल व वोकल के कुल 30 विद्यार्थी अध्ययनरत है साथ ही तीन रिसर्च स्कॉलर भी अध्ययनरत हैं बावजूद 7 माह से मात्र सेवानिवृत्त शिक्षिका के भरोसे पूरा संगीत विभाग की जिम्मेवारी सौप रखी
वर्तमान में भी विश्वविद्यालय के गैर जिम्मेदार रवैया के कारण अध्ययनरत विद्यार्थी नियमित कक्षाएं न लगने के कारण नया परिसर स्थित केंद्रीय पुस्तकालय में समय पडऩे पर मजबूर है साथी वर्तमान में चल रही म्यूजिक परीक्षाओं की सेंटर होने के के कारण संगीत विभाग की कक्षाएं भी परीक्षा केंद्र के लिए उपयोग में ली जा रही है जबकी विद्यार्थियों के सेमेस्टर प्रणाली के अंतर्गत अधिकांश कोर्स फोन भी नहीं हुआ है जिसके चलते विद्यार्थी मानसिक दबाव तक झेलने पर मजबूर हैं जबकि विश्वविद्यालय प्रशासन इन विद्यार्थियों की मजबूरी वह स्वयं के गैरजिम्मेदार रवैया पर भी गंभीर दिखता नहीं दिख रहा।

LEAVE A REPLY