बांग्लादेश के खिलाफ जीत हासिल कर फाइनल की टिकट कटाना चाहेगी टीम इंडिया

0
41

कोलंबो। श्रीलंका के खिलाफ सोमवार को छह विकेट से जीत दर्ज कर भारतीय क्रिकेट टीम ने अंक तालिका में शीर्ष स्थान पर कब्जा जमा लिया है। अब भारत बांग्लादेश के खिलाफ खेले जाने वाले मैच में जीत हासिल कर निदाहास ट्रॉफी टूर्नामेंट के फाइनल में जगह पक्की करेगा। वहीं, बांग्लादेश की नजऱ भारतीय टीम से मिली पहली हार का बदला लेने पर होगी। भारतीय बल्लेबाजों में कप्तान रोहित शर्मा फॉर्म में नहीं आ पा रहे हैं और उन्हें जितनी जल्दी हो सके अपनी लय हासिल करनी होगी। शिखर धवन और सुरेश रैना अच्छी कोशिश कर रहे हैं। मनीष पांडे मध्यम क्रम में अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। हार्दिक पांड्या के स्थान पर भारतीय टीम में शामिल हुए विजय शंकर अच्छा खेल रहे हैं और तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने श्रीलंका के खिलाफ खेले गए पिछले मैच में चार विकेट चटकाने के साथ ही अपनी क्षमता का प्रदर्शन दे दिया है। दीपक हुड्डा, मोहम्मद सिराज और अक्षर पटेल अतिरिक्त खिलाडिय़ों में शामिल हैं और उनका प्रेमदासा स्टेडियम में उतरना बाकी है। विकेटकीपर और बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने श्रीलंका के खिलाफ पिछले मैच में 25 गेंदों में 39 रनों की पारी खेली थी और ऐसे में ऋषभ पंत का बाहर बैठे रहना निश्चित है।
परिणामों पर नजर डाली जाए, तो ऐसे में अगर भारत को बांग्लादेश से हार भी मिलती है, तो उसे फाइनल के लिए श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले मैच के परिणाम पर निर्भर रहना होगा। टीमों का नेट रन रेट भी मुख्य है। आर. प्रेमदासा स्टेडियम में दोनों टीमें फाइनल में जगह पक्की करने के लक्ष्य से ही मैदान पर उतरेंगी। श्रीलंका के खिलाफ 215 रनों के लक्ष्य को हासिल कर बांग्लादेश भी आत्मविश्वास से भरपूर है। अपने पहले मैच में उसे भले ही भारत के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन श्रीलंका से मिली जीत ने उसके इरादे मजबूत कर दिए हैं। ऐसे में वह भी भारत से मिली अपनी हार का बदला लेकर रविवार को खेले जाने वाले फाइनल में पहुंचना चाहेगी। बांग्लादेश को उसके पहले मैच में भारतीय गेंदबाजों ने 139 रनों पर ही समेट दिया था। श्रीलंका के खिलाफ दूसरे मैच में तमीम इकबाल, लिटन दास और मुश्फिकुर रहीम ने 214 रनों के लक्ष्य को हासिल कर लिया। बांग्लादेश के लिए भारत के खिलाफ यह मैच फाइनल की राह तय करने की उम्मीद से बेहद अहम है। उसकी राह में स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल और वाशिंगटन सुंदर रुकावट बन सकते हैं। वाशिंगटन पावरप्ले में टीम को अच्छी मजबूती देते हैं। भारत के लिए यह टूर्नामेंट अनुभवी खिलाडिय़ों की गैर मौजूदगी में युवाओं को मौका देने का जरिया था लेकिन भारतीय क्रिकेटप्रेमियों की अपेक्षाओं को ध्यान में रखकर वे टीम चयन में ज्यादा प्रयोग नहीं कर सकते। ऐसे में दीपक हुड्डा, मोहम्मद सिराज, अक्षर पटेल जैसे खिलाडिय़ों को भेजने के कोई मायने नहीं रह जायेंगे जो एक भी मैच नहीं खेल सके।
भारत : रोहित शर्मा ( कप्तान ), शिखर धवन, केएल राहुल, सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक , दीपक हुड्डा, वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, विजय शंकर, शरदुल ठाकुर, जयदेव उनादकट, मोहम्मद सिराज, ऋषभ पंत।
बांग्लादेश : महमूदुल्लाह ( कप्तान ), तामिम इकबाल, सौम्या सरकार, इमरूल कायेस, मुशफिकर रहीम, शब्बीर रहमान, मुस्ताफिजूर रहमान, रूबेल हुसैन, तसकीन अहमद, अबु हैदर, अबु जायेद, आरिफुल हक, नजमुल इस्लाम, नूरूल हसन, मेहदी हसन, लिटन दास।

LEAVE A REPLY