रात में सोने से पहले करते हैं मोबाइल का यूज तो जरूर पढ़ें

0
126

रात को बिस्तर पर जाने से पहले बार-बार मोबाइल को चैक करना, चैट करना और सर्फिंग करना अच्छी आदत नहीं है। फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम पर लगे रहने वाले लोगों के लिए ये नुकसानदेह होता है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि आप देर रात्रि तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल क्यूँ नहीं करना चाहिए, ऐसा करने से आपके स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ेगा और आपको क्या-क्या समस्याएं भविष्य में झेलनी पड़ सकती है।
रात में जब आप सारे काम निपटा कर बेड पर सोने के लिए आते हैं तो अपने फोन को लेकर उसे चैक करते हैं और देखते हैं कि आज क्या खास है। लेकिन इससे आपकी आंखों की रोशनी पर प्रभाव पड़ता है क्योंकि मेलाटोनिन नाम के हारमोन के उत्पादन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
1. रेटिना को नुकसान पहुँचाना
फोन से निकलने वाली रोशनी से आंखों का रेटिना प्रभावित होता है। लम्बे समय तक फोन का रात में इस्तेमाल करने से दृष्टि पर प्रभाव पड़ता है।
2. नींद में कमी
रात में फोन को इस्तेमाल करने से आपकी उसमें रूचि बढ़ जाती है और मेलाटोनिन नामक हारमोन का उत्पादन भी प्रभावित होता है जिससे नींद में कमी आ जाती है।
3. कैंसर का खतरा
आपको जानकर शॉक लग सकता है कि देर रात तक फोन का इस्तेमाल कैंसर का कारण बन सकता है। क्योंकि शरीर में मेलाटोनिन कम बनने की वजह से एंटीऑक्सीडेंट तत्वों पर भी प्रभाव पड़ता है जिससे कैंसर होने का खतरा होता है।
4. मस्तिष्क पर प्रभाव
जब आप सही तरीके से 7 या 8 घंटों की पूरी नींद नहीं लेते हैं तो आपका ब्रेन भी सही तरीके से अगले दिन काम नहीं करता है। ऐसे में सोचिए जब आप रेगुलर ऐसा करते हैं तो क्या होता होगा। दिमाग पर स्मार्टफोन इस्तेमाल करते रहने का सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ता है।
5. आंखों पर तनाव
रात में अंधेरे में लेटकर फोन चलाने से आंखों पर तनाव भी पड़ता है। कई बार आंखों के नीचे डार्क सर्कल भी हो जाते हैं। दृष्टि भी कम होने का खतरा बढ़ जाता है।

LEAVE A REPLY