चरवाहे की परिचितों ने ही की थी हत्या

0
31

तीन आरोपी दस्तयाब, पहचान खुलने के भय से हत्या को दिया अंजाम
जोधपुर। जिले के लूणी थाना क्षेत्र में गत मंगलवार को चरवाहे की हत्या के आरोप में पुलिस ने तीन लोगों को दस्तयाब किया है। येे युवक लूणी के ही रहने वाले चरवाहे के परिचित बताए गए है। इनकी योजना चरवाहे को लूटने की थी लेकिन चरवाहे के परिचित होने से राज खुलने के डर के चलते उसकी साफे से गला घोंटकर हत्या कर दी गई थी।
पुलिस ने बताया कि राजोरा की ढाणी का रहने वाला पनाराम सरगरा हमेशा की तरह गत मंगलवार सुबह अपना ऐवड़ लेकर उसे चराने निकला था। देर शाम सात बजे तक वह घर लौट आता था लेकिन उस दिन वह नहीं लौटा। तब परिजनों ने रात में उसकी तलाश की। बावजूद उसका पता नहीं लगा। इधर बुधवार सुबह पुलिस को आठ-नौ बजे के बीच सूचना मिली कि पनाराम सरगरा का शव केर के पेड़ के नीचे पड़ा है और उसकी हत्या की गई है। प्रथम दृष्टया मामला हत्या का लगा। पनाराम सरगरा के साफे से ही उसका गला घोंटना प्रतीत हुआ। शरीर पर कुछ चोटों के निशान भी मिले। पुलिस ने बताया कि पनाराम की हत्या किसी और स्थान पर किया जाना प्रतीत हुआ और शव को पेड़ के नीचे रखा गया। गले में फंदे के निशान भी मिले। इस पर पुलिस ने संदेह जताया था कि इसमें किसी जानकार अथवा पशु खरीद करने वालों का हाथ हो सकता है। हत्या के बाद उसके पशु लूट लिए गए है। सोमवार को पुलिस ने बताया कि हत्या के आरोपियों को दस्तयाब किया गया है। उनसे पूछताछ चल रही है। हत्या के आरोपी पनाराम की जाति के ही बताए गए है और राजोर की ढाणी के ही रहने वाले है।

LEAVE A REPLY