शिवराज सरकार के मंत्री की आरक्षण पर विवादित टिप्पणी

0
11

भोपाल। मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार में मंत्री गोपाल भार्गव ने आरक्षण पर टिप्पणी की है। उन्होंने कहा है कि ‘यदि योग्यता को दरकिनार कर के अयोग्य लोगों का चयन किया जाएगा, यदि 90 फीसदी वाले को बैठा दिया जाएगा और 40 फीसदी वाले की नियुक्ति की जाएगी तो यह देश के लिए घातक है।’ भार्गव ने कहा कि यह ब्राम्हण का नहीं प्रतिभा का अपमान है। राज्य की शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट में मंत्री गोपाल ने कहा कि जब देश आजाद हुआ था तब एक चौथाई संसद-विधायक कर्मचारी अधिकारी हमारे वर्ग के थे अब मात्र 10 फीसदी हैं। अब इससे भी ज्यादा कम होते जा रहे हैं। गोपाल ने कहा कि इसका कारण यह है कि पहले नीति थी, अब अनीति है। भार्गव ने कहा कि हर दल ब्राह्मण का समर्थन तो चाहती है पर उसे देना कुछ नहीं चाहती है। हम आज एक वोट बैंक बनकर रह गए हैं। जिस तरह से पहले दूसरी जातियां हुआ करती थींं पर वे सभी सरकार से कुछ ना कुछ मांग चुकी हैं लेकिन ब्राह्मण ने ऐसा कुछ नहीं किया। इस बयान पर हंगामा होने के बाद गोपाल ने कहा कि उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया गया है। उन्होंने कहीं भी आरक्षण शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है।

LEAVE A REPLY