विराट सेना की चुनौती को ध्वस्त करने के इरादे से मैदान पर उतरेगी दिल्ली डेयरडेविल्स

0
43

नई दिल्ली: आईपीएल 11 में पिछेल मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाग के खिलाफ 9 विकेट से हार का सामना करने के बाद प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो चुकी दिल्ली डेयरडेविल्स शनिवार को फिरोजशाह कोटला मैदान पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर से भिड़ेगी। आरसीबी के ऊपर भी प्लेऑफ से बाहर होने का साफ खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में दिल्ली की नजर विराट सेना को मात देकर आईपीएल में उसका भी खेल बिगाड़ने पर होगी। दिल्ली अंकतालिका में अंतिम और बेंगलोर10 मैचों में तीन जीत के साथ सातवें स्थान पर है। दिल्ली को अभी चार मैच खेलने हैं और अगर वह चारों में जीत हासिल कर लेती है तो उसके लिए प्लेऑफ में जाने की संभावनाएं बन सकती हैं, लेकिन साथ ही उसे अन्य टीमों के प्रदर्शन पर भी निर्भर रहना होगा। दिल्ली को गुरुवार को अपने घर में सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत ने शानदार शतक जड़ा लेकिन दिल्ली के गेंदबाजों ने उनकी मेहनत पर पानी फेर दिया। बेंगलोर के खिलाफ मैच में दिल्ली को हासिल करने के लिए एक बार फिर पंत से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी। पृथ्वी शॉ का बल्ला पिछले मैच में नहीं चला था लेकिन वह बीते कुछ मैचों में लगातार रन बना रहे हैं। इन दोनों के अलावा कप्तान श्रेयस अय्यर भी फॉर्म में हैं।
जेसन रॉय के पास पिछले मैच में खुद को साबित करने का मौका था लेकिन उनका बल्ला भी खामोश ही रहा। दिल्ली के लिए ग्लेन मैक्सवेल का न चलना निराशाजनक रहा है। दिल्ली के पास खोने को कुछ नहीं है। ऐसे में वह मनजोत कालरा, गुरकीरत सिंह, सायन घोष तथा जूनियर डाला को मौका दे सकती है। गेंदबाजी में दिल्ली के पास ट्रेंट बोल्ट, अमित मिश्रा जैसे गेंदबाज हैं लेकिन वे विफल ही रहे हैं। हर्षल पटेल को पिछले मैच में मौका मिला था लेकिन शिखर धवन और केन विलियमसन की जोड़ी ने दिल्ली के हर गेंदबाज को बैकफुट पर ही रखा था।
बेंगलोर के लिए भी यह सीजन खराब ही रहा है। बेंगलोर की टीम कप्तान विराट कोहली और अब्राहम डिविलियर्स पर निर्भर है। इन दोनों के अलावा टीम को क्विंटन डि कॉक और ब्रेंडन मैकुलम से काफी उम्मीदें थीं लेकिन यह दोनों विफल रहे हैं। मोइन अली को कोहली ने काफी देर से मौका दिया, लेकिन वो भी मौके को भुना नहीं पाए। कोलिन डि ग्रैंडहोम का प्रदर्शन औसत ही रहा है। गेंदबाजी में युजवेंद्र चहल और वॉशिंगटन सुंदर ने बेंगलोर के लिए कमान संभाल रखी है लेकिन तेज गेंदबाजों ने इन दोनों का साथ नहीं दिया। हालांकि उमेश यादव ने कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है। टिम साउदी जैसा दिग्गज गेंदबाज भी विफल रहे हैं।
फिरोज शाह कोटला मैदान पर विराट को बल्ला जमकर बोलता है। विराट ने इस मैदान पर 83.75 की औसत से रन बनाए हैं। इस मैदान पर खेले पिछले पांच मैचों में से चार में विराट ने अर्धशतक जड़ा है। अगर शनिवार को विराट का बल्ला चल निकला तो दिल्ली के गेंदबाजों की खैर नहीं।
दोनों टीमों के बीच अबतक कुल 20 मुकाबले खेले गए हैं। जिसमें से 6 में दिल्ली और 13 में आरसीबी विजयी रही है। जबकि एक मुकाबला बराबरी पर समाप्त हुआ था। वहीं फिरोज शाह कोटला मैदान पर दोनों के बीच 7 भिड़ंत हुई हैं जिसमें से 5 में बेंगलोर और 2 में दिल्ली विजयी रही है।
दिल्ली डेयरडेविल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), जेसन रॉय, गौतम गंभीर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ग्लेन मैक्सवेल, विजय शंकर, डेनियल क्रिस्टियन, राहुल तेवातिया, शहबाज नदीम, मोहम्मद शमी, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन मुनरो, अमित मिश्रा, पृथ्वी शॉ, हर्ष पटेल, आवेश खान, जयंत यादव, गुरकीरत सिंह मान, मंजोत कालरा, अभिषेक शर्मा, संदीप लामिचाने, नमन ओझा, सायन घोष और लियम प्लंकेट।
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर : विराट कोहली (कप्तान), एबी डिविलियर्स, सरफराज खान, क्रिस वोक्स, युजवेंद्र चहल, ब्रैंडन मैकुलम, वॉशिंगटन सुंदर, नवदीप सैनी, क्विंटन डि कॉक, मनदीप सिंह, कुलवंत खजरोलिया, कोलिन डि ग्रैंडहोम, उमेश यादव, मोइन अली, मनन वोहरा, अनिकेत चौधरी, मुरुगुन अश्विन, मनदीप सिंह, पवन नेगी, मोहम्मद सिराज, पार्थिव पटेल, अनिरुद्ध जोशी, पवन देशपांडे, टिम साउदी, कोरी एंडरसन।

LEAVE A REPLY