वकीलों की हड़ताल जारी, तेज होगा आंदोलन

0
47

उदयपुर में हाईकोर्ट की बेंच की मांग का विरोध : आमसभा की, आज भी जारी रहेगा कार्य बहिष्कार
जोधपुर। उदयपुर में राजस्थान उच्च न्यायालय की पीठ स्थापित करने को लेकर राज्य सरकार की ओर से कमेटी गठित करने से नाराज वकीलों ने मंगलवार को दूसरे दिन भी न्यायिक कार्यों का बहिष्कार किया। वकीलों की इस हड़ताल से अदालतों में न्यायिक कार्य पूरी तरह से ठप हो गया है। वकील अदालत में नहीं गए। उन्होंने यहां आमसभा भी की और उदयपुर में हाईकोर्ट की बेंच की मांग का विरोध जताया। कार्य बहिष्कार बुधवार को भी जारी रखा जाएगा।
राजस्थान हाईकोर्ट एडवोकेट्स एसोसिएशन एवं लॉयर्स एसोसिएशन के आह्वान पर मंगलवार को भी वकीलों ने उदयपुर में हाईकोर्ट की बेंच की मांग के खिलाफ हड़ताल रखी। हाईकोर्ट एडवोकेट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रणजीत जोशी एवं लॉयर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष कुलदीप माथुर ने बताया कि इस दौरान दोनों एसोसिएशन से जुड़े वकीलों ने अदालतों में उपस्थिति नहीं दी। साथ ही उदयपुर में बेंच के लिए गठित कमेटी को तत्काल भंग करने की मांग दोहराई गई। वकीलों ने अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को एक आमसभा भी आयोजित की जिसमें यह निर्णय लिया गया कि उदयपुर में राजस्थान उच्च न्यायालय की पीठ स्थापित करने को लेकर राज्य सरकार की ओर से गठित कमेटी को अगर भंग नहीं किया जाता है तो आंदोलन को और अधिक तेज किया जाएगा। इसके लिए जिले के जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर एकीकृत उच्च न्यायालय के लिए समर्थन जुटाया जाएगा।
दो दिन से जारी है हड़ताल
उदयपुर में हाईकोर्ट की बेंच की मांग के खिलाफ जोधपुर में वकील दो दिन से हड़ताल पर है। इस हड़ताल के कारण हाईकोर्ट और उसके अधीनस्थ न्यायालयों में सभी न्यायिक कार्य ठप पड़े है। किसी भी न्यायालय में कोई अधिवक्ता पैरवी के लिए उपस्थित नहीं हुए जिससे अदालती कामकाज पूरी तरह से प्रभावित हो रहा है। सुबह हाईकोर्ट के सभी जजों के समक्ष विभिन्न मामलों की सुनवाई शुरू हुई, लेकिन वकीलों ने उपस्थिति नहीं दी। अधिकांश मामलों में वकीलों के उपस्थित नहीं होने के कारण आगे की तारीख दे दी गई। वकील कॉरिडोर में तो आए लेकिन कोर्ट रूम में नहीं गए।

LEAVE A REPLY