दांत के रोगों से निजात पाने के कुछ रामबाण घरेलु नुस्खे

0
114

दांत के रोगों से इस समय काफी बड़ी जनसंख्या पीडि़त है। इसका इलाज भी काफी महंगा होता है। मसूड़ों में सूजन, पायरिया, दांत में दर्द जैसी कई तकलीफों का आमजन सामना करते हैं। इन सभी परेशानियों में दादी-नानी के नुस्खे कभी कभी बहुत काम आ जाते हैं। खासकर तब डॉक्टर मौजूद न हो। आइये जानते हैं कुछ ऐसे ही रामबाण नुस्खों के बारे में जो इन समस्याओं से राहत दिलाती है।
मसूड़ों की सूजन
– मेंहदी के पत्तों को पानी में उबालकर उस पानी से सुबह-शाम कुल्ला करने से आराम मिलता है।
– अरंडी के तेल में कपूर मिलाकर पतिदिन सुबह -शाम मसूड़ों पर रगड़ें।
– मसूडों पर फिटकरी का चूर्ण लगाने से मसूडों के रोग दूर होते हैं।
– ताजे पानी में नीबू का रस सही मात्रा में डालकर गरारे करने से मसूड़ों की सूजन व गंध दूर होती है।
– अदरक और नमक पीसकर अच्छी तरह मिला लें। इसे मसूड़ों पर धीरे-धीरे रगडऩे से आराम मिलता है।
– बबूल की छाल का काढ़ा बनाकर कुल्ला करने से सूजन में आराम मिलता है।
– अजवायन को तवे पर भून लें फिर इसमें दो- तीन बूंद राई का तेल मिलाकर हल्का-हल्का मसूड़ों पर मलें। इससे दांतों के अन्य रोग भी दूर होते है।
पायरिया
– सरसों के तेल में नमक मिलाकर मंजन करने से पायरिया दूर होती है।
– नमक और बबूल के कोयले का मंजन बनाकर करने से लाभ मिलता है।
– नीबू का रस मसूड़ों पर मलने से दांतों से निकलने वाला खून बंद हो जाता है।
– सुबह ब्रश करने के बाद राई का तेल और नमक मिलाकर उंगली से दांतों व मसूड़ों पर मालिश करनी चाहिए।
– तिल के तेल को मुंह में 10-15 मिनट तक रखकर गरारे करने से पायरिया रोग दूर होता है और हिल रहे दांत भी मजबूत होते है।
– बरगद, गूलर या पीपल में से किसी एक की बाहरी त्वचा या उसकी कोमल डंठल लाकर उसका काढ़ा बनाकर उससे गरारे करने से पायरिया मे लाभ मिलता है।
दांत में दर्द
– हल्दी की गांठ भूनकर दांत में दबाने से दांत का दर्द ठीक होता है।
– 70 गाम घिया (लौकी) का गूदा और 15 गाम लहसुन दोनों को कूटकर एक लीटर पानी में पकाए। जब आधा पानी शेष रह जाए तो थोडा ठंडा पानी करके कुल्ला करें, दांत तुरंत ठीक हो जाता है।
– दांतों में दर्द की टीस उठने पर 3 गाम सोंठ पीसकर गरम पानी के साथ फांक लें। टीस में आराम मिलेगा।
– दांत में कीड़ा लग गया हो तो तुलसी के रस में कपूर मिलाकर उसमें भीगी हुई रुई का फाहा रखें, दांत दर्द में आराम मिलेगा।
– हींग या लौंग पीसकर मलने, लहसुन पर नमक छिडक़कर चबाने, पिसा हुआ तंबाकू मलने से भी दांत दर्द ठीक होता है।
– लौंग 5 ग्राम, कपूर 3 ग्राम को बारीक पीसकर दांतों पर मलने से रोग दूर होते हैं।
– सेंधा नमक और सरसों का तेल दोनों को मिलाकर मंजन करने से पायरिया, दांतों का हिलना आदि सब रोग दूर हो जाते हैं।
– चबाने पर दर्द होता है तो रात को सोते समय थोड़ी सी पिसी हल्दी व सरसों का तेल दांतों पर लेप कर लें और सुबह कुल्ला कर लें।
– प्याज के पानी को दांतों पर मलने से बहुत से रोग ठीक हो जाते हैं। कैविटी से बचाव होता है।

LEAVE A REPLY