शाहबेरी हादसे के बाद एक्शन में आया ग्रेटर नोएडा प्रशासन

0
46

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी गांव में निर्माणाधीन भवन गिरने से 9 लोगों की मौत के बाद तेजी दिखाते हुए प्राधिकरण टीम ने शनिवार को शाहबेरी का दौरा कर अवैध रूप से बने कमजोर भवनों का निरीक्षण किया। भवन में रहने वालों को घर खाली करने का नोटिस दिया गया। टीम ने एक भवन सील कर दिया। साथ ही तीन दर्जन भवनों में सीलिंग का नोटिस चस्पा किया गया। शाहबेरी इलाके में ही में एक और बिल्डिंग कभी भी गिर सकती है. बारिश के पानी की वजह से 7 मंजिला इमारत एक ओर झुक गयी है. इसके पिलर को लोहे के सहारे टिकाया गया है. प्रशासन ने खतरे को देखते हुए आसपास की इमारतों को खाली करवा दिया है. ग्रेटर नोएडा के पॉश सेक्टर बीटा-2 में नई बिल्डिंग बनाने के लिए की गई गहरी खुदाई की गई और उसमें जमे पानी की वजह से पास की 13 मंजिला बिल्डिंग पर खतरा मंडराने लगा है. बिल्डिंग की दीवार में दरार आ गई हैं. 13 मंजिला बिल्डिंग कभी भी गिर सकती है. 17 जुलाई को ही शाहबेरी में दो इमारतें ताश के पत्तों की तरह भरभराकर गिर गईं थीं. इनमें दबकर 9 लोगों की जान चली गयी.

LEAVE A REPLY