मनु भाकर ने स्वर्ण जीता, ओलिंपिक स्तर पर गोल्ड जीतने वाली पहली भारतीय महिला शूटर बनीं

0
23

ब्यूनस आयस। यूथ ओलिंपिक में भारत का शानदार प्रदर्शन जारी है। 15 साल के जेरेमी लालरिनुंगा के भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलाने के बाद मनु भाकर ने महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में पीला तमगा हासिल किया। मनु ओलिंपिक स्तर पर स्वर्ण जीतने वाली भारत की पहली महिला शूटर हैं। उनसे पहले सीनियर या जूनियर वर्ग में भारत ने कभी कोई स्वर्ण पदक नहीं जीता था। यूथ ओलिंपिक के इतिहास में भी शूटिंग में भारत का यह पहला स्वर्ण पदक है।
भारत के इस टूर्नामेंट में अब दो स्वर्ण और तीन रजत समेत पांच पदक हो गए हैं। वह पदक तालिका में तीसरे नंबर पर है। मनु भाकर ने फाइनल में 236.5 का स्कोर किया और पहले स्थान पर रहीं। वे क्वालिफाइंग राउंड में भी 576 के स्कोर के साथ शीर्ष पर रही थीं। 16 साल की यह निशानेबाज अप्रैल में ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में भी स्वर्ण पदक जीतने में सफल रही थी। हालांकि, जकार्ता एशियाई खेलों में वे पदक जीतने से चूक गईं थीं। मनु इस साल आईएसएसएफ वल्र्ड कप में 10 मीटर एयर पिस्टल की निजी और टीम स्पर्धा में भी स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं। महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में रूस की इयाना एनिना ने 235.9 अंक के साथ रजत और जॉर्जिया की नीनो खुत्सीबेरिड्ज ने 214.6 अंक के साथ कांस्य पदक जीता।
इस साल मनु भाकर के स्वर्ण पदक : एक से 12 मार्च तक मैक्सिको के गुआडालाजारा में हुई आईएसएसएफ वल्र्ड चैम्पियनशिप में व्यक्तिगत और टीम इवेंट में स्वर्ण पदक जीता। मार्च में ही ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में हुए आईएसएसएफ जूनियर विश्वकप में अलग-अलग कैटेगरी में दो स्वर्ण पदक अपने नाम किए। अप्रैल में गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में 10 मीटर एयर पिस्टल में देश को सोना दिलाया। अक्टूबर में यूथ ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीता।

LEAVE A REPLY