सुपर चैम्प पीवी सिंधु ने लॉन्च किया वोडाफोन सखी

0
32

दिल्ली। भारत के अग्रणी दूरसंचार सेवा प्रदाता, वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने आज अपनी तरह की अनूठी मोबाइल आधारित सुरक्षा सेवा वोडाफोन सखी का लॉंच किया है, जिसे खास तौर पर महिलाओं के लिए पेश किया गया है। कई खास फीचर्स जैसे एमरजेन्सी एलर्ट, एमरजेन्सी बैलेंस और प्राइवेट नंबर रीचार्ज से युक्त यह सर्विस देशभर में वोडाफोन प्री-पेड का इस्तेमाल करने वाली महिला उपभोक्ताओं को सुरक्षा प्रदान करती है। उपभोक्ता स्मार्टफोन और फीचर फोन पर इस सेवा का लाभ उठा सकते हैं, इसके लिए बैलेंस या मोबाइल इंटरनेट का होना भी ज़रूरी नहीं, इस तरह यह सर्विस भारत की लाखों महिलाओं के लिए फायदेमंद साबित हो रही है। जानी-मानी बैडमिंटन स्टार, ओलम्पिक पदक विजेता, पद्मश्री एवं अर्जुन पुरस्कार विजेता पी वी सिंधु ने वोडाफोन सखी का लॉंच करते हुए कहा कि मोबाइल ने वास्तव में लोगों के इन्टरैक्ट करने के तरीके को पूरी तरह से बदल डाला है। मेरा मानना है कि महिलाओं को मोबाइल कनेक्शन के फायदे उपलब्ध कराकर उनकी सुरक्षा से जुड़ी समस्याओं को हल किया जा सकता है।’’ इस मौके पर पी वी सिंधु ने महिलासशक्तीकरण के लिए एक विशेष अभियान की शुरूआत भी की, जो महिलाओं को पूरे आत्मविश्वास के साथ घर से बाहर जाने और उनके सपनों को साकार करने में मदद करेगा।
उन्होने सभी महिलाओं से आग्रह किया कि बहादुर, होशियार और निडर बनें, बिना किसी डर या हिचक के हिम्मत कर घर से बाहर निकलें और बेवजह समाज या परिवार के दबाव में न आएं। इस मौके पर पीवी सिंधु ने कहा कि तो अब रूके क्यो।
इस मौके पर अवनीश खोसला, एसोसिएट डायरेक्टर-कन्ज़्यूमर बिजऩेस, वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने कहा कि भारत में एक बिलियन से अधिक मोबाइल कनेक्शन हैं और देश की आधी से अधिक आबादी महिलाओं की आबादी है। फिर भी देश में 18 फीसदी से भी कम महिला सब्सक्राइबर हैं। इसके अलावा ज़्यादातर महिलाएं फीचरफोन या बेसिक मोबाइल फोन का ही इस्तेमाल करती हैं। मोबाइल फोन के इस्तेमाल में यही अंतराल महिला सशक्तीकरण के आड़े आता है। वोडाफोन सखी के माध्यम से हम समाज की इन समस्याओं को दूर करना चाहते हैं। अपनी तरह की अनूठी और नि:शुल्क यह सेवा महिलाओं में आत्मविश्वास पैदा करेगी ताकि वे बेहिचक, बिना किसी डर के घर से बाहर निकलें और अपने सपनों को साकार कर सकें।
इस मौके पर सुप्रीत के सिंह- डायरेक्टर एवं सीओओ-सेफसिटी/ बोर्ड डायरेक्टर, रेडडॉट फाउन्डेशन ग्रुप को सम्मानित किया गया, जिन्होंने दूर-दराज के ग्रामीण इलाकों में महिला सशक्तीकरण की दिशा में सराहनीय प्रयास किया है तथा ‘अब रुके क्यों’ की भावना को प्रोत्साहित करने की कोशिश की है।
इस मौके पर 360 डिग्री नेशनल मार्केटिंग अभियान का भी अनावरण किया गया, जो देशभर में जागरुकता पैदा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। इस सेवा का लॉंच एक विषयगत फिल्म के माध्यम से किया जा रहा है, फिल्ममें एक युवती ‘अब रुके क्यों’ का आहृान करते हुए समाज की बाधाओं को पार कर आगे बढ़ जाती है। फिल्म का निर्माण सिर्फ महिलाओं की टीम द्वारा किया गया है। बेहद प्रतिभाशाली एवं कई पुरस्कार जीतने वाली नेहा कक्कड़ द्वारा गाया गया गीत ‘अब रुके क्यों’ इस अभियान का मुख्य आकर्षण केन्द्र है।
सिद्धार्थ बैनर्जी, ईवीपी-मार्केटिंग, वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने इस अभियान के बारे में कहा कि महिलाओं की सुरक्षा हमारे देश में एक ज्वलंत मुद्दा है। हमने पाया है कि सुरक्षा के मद्दों के चलते बहुत सी महिलाएं आगे नहीं बढ़ पातीं। इसी मुद्दे को हल करने के लिए हम वोडाफोन सखी की अनूठी पेशकश लेकर आए हैं, हमारा छोटा सा यह कदम महिलाओं में आत्मविश्वास पैदा करेगा और वे निडर होकर घर से बाहर निकल सकेंगी, अपने सपनों को नई उड़ान दे सकेंगी। हमारा मार्केटिंग अभियान अब रुके क्यों हमें हमारी महिला उपभोक्ताओं के साथ जोड़ता है और उन्हें बदलाव की इस मुहीम में शामिल होने के लिए प्रेरित करता है।

LEAVE A REPLY