5 मिनट में डूबे 4 लाख करोड़, जानिए शेयर बाजार में गिरावट के कारण

0
12

मुंबई। शेयर बाजार में निवेशकों के लिए दिन की शुरुआत किसी सदमे से कम नहीं रही। बाजार खुलते ही सेंसेक्स और निफ्टी में भारी गिरावट देखी गई। सेंसेक्स 1000 अंक गिरकर 33,760 के स्तर पर खुला। वहीं निफ्टी 311 अंक गिरकर 10,100 के स्तर पर आ गया। हालांकि बाद में बाजार थोड़ा संभला, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अनुमान है कि इस गिरावट से निवेशकों को महज 5 मिनट में 4 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो गया। भारतीय शेयर बाजार में गिरावट का सबसे बड़ा कारण अमेरिकी और अन्य एशियाई शेयरों का कमजोर प्रदर्शन रहा। जापान का निकेई इंडेक्स 3.7 फीसदी, कोरिया का कोस्पी फीसदी, ताईवान का इंडेक्स 5.21 फीसदी और शंघाई कंपोजिट इंडेक्स में 2.4 फीसदी की गिरावट देखी गई। इसका सीधा असर बीएसई और एनएसई पर पड़ा।
रुपए ने किया आग में घी का काम: रुपए भी लगातार कमजोर होता जा रहा है। रुपया आज डॉलर के मुकाबले गिरकर 74.41 पर पहुंच गया। जानकारों के मुताबिक, डॉलर के मुकाबले रुपए के लगातार गिरने से शेयर बाजार से विदेशी निवेशक रूठ गए हैं। विश्व में जब आर्थिक मंदी चल रही थी तब इन्होंने अपना पैसा भारतीय बाजार में निवेश किया था। डॉलर, पौंड और यूरो के मजबूत होते ही ये निवेशक लौट रहे हैं।
निवेशक क्या करें : ऐसे माहौल में बाजार के जानकार सलाह देते हैं कि बहुत सोच-समझकर निवेश किया जाना चाहिए। हड़बड़ी में खरीदी भारी पड़ सकती है। वैसे बाजार से दूर रहने में ही भलाई है। वहीं उन निवेशकों को घबराना नहीं चाहिए, जिन्हें नुकसान हुआ है, बल्कि अच्छे शेयरों में निवेश फायदेमंद रहेगा।

LEAVE A REPLY