आत्महत्या के प्रयास करने वाले बंदी के गले पर लगा गहरा कट

0
12

जोधपुर। मासूम बच्ची से ज्यादती के आरोपित द्वारा जेल में सोमवार शाम को आत्महत्या का प्रयास किए जाने के मामले में पुलिस में उसके बयान नहीं ले पाई है। गले पर ब्लैड से गहरा घाव लगने से वह बयान देने की स्थिति में नहीं है। हालांकि उसकी स्थिति में कुछ सुधार बताया गया है। रातानाडा पुलिस सुबह मथुदादास माथुर अस्पताल में उसके बयान लेने गई लेकिन बयान में अनफिट पाए जाने पर पुलिस लौट आई।
सनद रहे कि बीते दिनों राइका बाग रेलवे स्टेशन पर रात के समय एक युवक मध्यप्रदेश के परिवार की तीन साल की बच्ची को उठा ले गया था और ज्यादती करते रंगे हाथ पकड़ा गया था। रेलवे पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भिजवा दिया था। यह आरोपित भीलवाड़ा का कैलाशचंद मेघवाल था जो न्यायिक अभिरक्षा में है। सोमवार देर शाम को उसने केंद्रीय कारागाह में गले पर ब्लैड लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया। पता लगने पर उसे तत्काल जेल डिस्पेंसरी से बाद में एमडीएमएच भेजा गया। गले पर गहरा घाव लगने से वह बयान नहीं दे पाया है। रातानाडा थाने में उसके आत्महत्या प्रयास का मामला दर्ज किया गया। डॉक्टर जांच में वह बयान देने के लिए अनफिट पाए जाने पर पुलिस सुबह लौट आई।

LEAVE A REPLY