पश्चिमी राजस्थान में पलटा मौसम

0
19

जोधपुर। पश्चिमी राजस्थान में एक बार फिर मौसम ने पलटा खाया है। स्वर्णनगरी जैसलमेर में शनिवार अलसुबह बारिश का दौर शुरु हो गया, जो करीब 2 घंटे तक चला। कभी तेज तो कभी धीमी गति से बारिश होती रही। इधर जोधपुर में मौसम सामान्य बना हुआ है। बादलों की हल्की परत छाने से सर्दी का अहसास कम हुआ है लेकिन बादल छंटने के साथ ही सर्दी का असर तेज हो सक ता है। धूप भी कमजोर पड़ी है। सूर्यदेव की बादलों की ओट में लुकाछिपी चल रही है।
मारवाड़ में मौसम पलटने से एक बार फिर सर्दी बढ़ रही है। यहां हवा की दिशा और पश्चिमी विक्षोभ के कारण हुए बदलाव का असर जैसलमेर में देखने को मिला। जैसलमेर में शनिवार सुबह जल्दी मौसम बदल गया और आसमान में काली घटाओं ने डेरा जमा लिया। इसके बाद रिमझिम बारिश का दौर शुरू हो गया। बारिश के कारण तापमान में गिरावट आ गई और सर्दी बढ़ गई। बारिश के कारण सडक़ों और गलियों में पानी भर गया। बारिश के बाद मौसम और भी सर्द हो गया। ठंडी हवाएं चलने से हर कोई बेहाल नजर आया। अलसुबह आसमान में घोर बिजली व गर्जन के साथ बारिश हुई। बादलों व कोहरे के छाने के साथ ही तेज ठंडी हवाएं चलती रही। तेज ठंडी हवाओं के चलने से सर्दी में काफी इजाफा हो गया। सुबह के समय सूर्यदेव के दर्शन भी नहीं हो पाए। सर्दी में इजाफा होने के कारण ग्रामीणों को घरों में ही दुबकने को मजबूर होना पड़ा।
तापमान में बदलाव
बता दे कि मारवाड़ में आज कल न्यूनतम तापमान में व्यापक बदलाव देखने को मिल रहा है। एक दिन यह दो डिग्री तक बढक़र अगले दिन फिर से कम हो जाता है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि हवा की दिशा में लगातार हो रहे बदलाव के कारण ऐसा हो रहा है। जब भी उत्तर पश्चिम हवा चलती है तो तापमान गिरता है जबकि दक्षिण-पूर्वी हवा चलने पर तापमान बढऩा शुरू हो जाता है। गत 24 घंटो में न्यूनतम तापमान दो डिग्री बढक़र 9 डिग्री तक पहुंच गया। अगले एक-दो दिन तक न्यूनतम तापमान में कुछ बढ़ोतरी होने का अनुमान है। इससे लोगों को सर्दी से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। जोधपुर में अधिकतम तापमान 26 डिग्री व न्यूनतम 9 डिग्री दर्ज किया गया।

LEAVE A REPLY