अमेरिका में कोरोना का विकराल रूप, Pfizer की कोरोना वैक्सीन को दिया इमर्जेंसी अप्रुवल

0
120

वॉशिंगटन। अमेरिका ने Pfizer की कोरोना वैक्सीन को इमर्जेंसी अपु्रवल दे दिया है। अमेरिका के खाद्य एवं औषधि विभाग ने इस कोविड वैक्सीन के इस्तेमाल को हरी झंडी दिखा दी। दरअसल अमेरिका में महामारी एक बार फिर विकराल रूप दिखाने लगी है। ऐसे में प्रशासन के सामने कोई और विकल्प नहीं था। बुधवार को अमेरिका में कोरोना से रेकॉर्ड 3263 लोगों की मौत हो गई थी।
9 घंटे चली बैठक के बाद फाइजर और बायोएनटेक की कोविड वैक्सीन को इमर्जेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी गई। बैठक में यह भी कहा गया कि यह वैक्सीन 16 साल के ऊपर वालों के लिए सुरक्षित है। जानकारी के मुताबिक शुरू में वैक्सीन स्वास्थ्य कर्मचारियों और सेना के लोगों को दी जाएगी।
फाइजर का दावा है कि यह वैक्सीन 95 फीसदी से ज्यादा प्रभावी है। इसी तरह मॉडर्ना ने भी अपनी वैक्सीन के कारगर होने के दावा किया है। हो सकता है कुछ समय में मॉडर्ना की वैक्सीन को भी अप्रुवल मिल जाए। हालांकि मॉडर्ना की भी वैक्सीन महंगी हो सकती है। इन दोनों टीकों को काफी कम तापमान में सुरक्षित रखना होता है। ये दोनों वैक्सीन विकासशील देशों के लिए अफोर्डेबल नहीं हैं।
एक दिन पहले ही ब्रिटेन में फाइजर की कोरोना वैक्सीन लगने के बाद दो लोगों की तबीयत खराब हो गई थी। इशके बाद नैशनल हेल्थ सर्विस ने चेतावनी जारी की। लोगों से कहा गया कि जिन्हें, दवा या वैक्सीन से एलर्जी है वो इसका इस्तेमाल न करें। फाइजर भारत में भी अपनी वैक्सीन उतारना चाहता है लेकिन यहां कई तकनीकी समस्याएं हैं। भारत वैक्सीन के प्रभाव पर गहरी नजर बनाए हुए है। अमेरिका में फाइजर वैक्सीन की कीमत 37 डॉलर के आसपास रह सकती है। वहीं भारत में इसकी कीमत 1450 रुपये प्रति डोज हो सकती है। इस पर अभी कोई पुख्ता फैसला नहीं हुआ है। वहीं सीरम इंस्टिट्यूट का टीका इसकी तुलना में काफी सस्ता रहने की उम्मीद है। भारत बायोटेक ने भी कहा है कि भारत में इस टीके की भी कीमत कम ही रखी जाएगी।

LEAVE A REPLY