उदयपुर के अंध विद्यालय में कोरोना का ब्लास्ट

0
158

24 स्कूली छात्र और चार स्टाफ संक्रमित मिले
जयपुर। प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक बार फिर से बढऩे लगी है। वहीं डूंगरपुर के बाद शुक्रवार को उदयपुर में कोरोना ब्लास्ट हो गया। अंबामाता स्थित प्रज्ञा चक्षु माध्यमिक अंध विद्यालय में 28 नए संक्रमित मिले हैं। यह सभी विद्यालय के हॉस्टल में रहने वाले छात्र और स्टाफ है। इसकी सूचना मिलते ही प्रशासन और चिकित्सा विभाग में हडंकप मच गया। इतनी बड़ी संख्या में संक्रमित मिलने के बाद कलेक्टर ,एसपी और सीएमचओं सहित कई अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। विद्यालय को सैनिटाइज किया गया। विद्यालय के आसपास के इलाके को कंटेंटमेंट जोन घोषित कर दिया है। गौरतलब है दो दिन पूर्व डूंगरपुर में एक दिन पचास नए संक्रमित पाए गए थे और वहीं आज उदयपुर में एक ही स्कूल में24 स्कूली बच्चों और चार स्टाफ संक्रमित पाए जाने की घटना को गंभीरता से लिया जा रहा है।
अंध विद्यालय में गुरुवार को एक शिक्षक कोरोना संक्रमित मिली थी। इसके बाद सभी छात्रों और स्टाफ की कोरोना जांच कराई गई थी। इसमें 28 नए संक्रमित सामने आए हैं। इन सभी को क्वारेंटाइन कर लिया गया है। वहीं अब मरीजों के सम्पर्क में आए लोगों की भी जांच करवाई जा रही है। वहीं संदिग्ध पाए गए स्कूली छात्रों व स्कूल के स्टाफ को भी क्वारेटाइन कर दिया गया है। सूचना मिलने पर शिक्षा अधिकारी ने भी विधालय पहुंचे और फिलहाल स्कूल को सेनेटाइज करने के बाद बंद कर दिया गया है। वहीं हास्टल को भी सेनेटाइज किया गया है। उदयपुर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी दिनेश खराड़ी ने कहा कि एक साथ इतनी बड़ी संख्या में संक्रमित आना चिंता की बात है। अंध विद्यालय में बीते दिनों जो भी लोग आए थे। अब सभी का पता लगाकर उनकी जांच कराई जाएगी। ताकि शहर में बढ़ते संक्रमण को काबू किया जा सके। उन्होंने बताया कि इस विद्यालय के 11 बच्चे बाहर रहते हैं, जबकि अन्य होस्टल में रहते हैं। जिन बच्चों के सैम्पल गुरुवार को नहीं लिए गए, उनकी जांच शुक्रवार को जांच की जा रही है पूरे स्कूल परिसर को सेनेटाइज करा दिया गया है। स्कूल के स्टाफ को भी कोरोना की जांच कराने के लिए कहा गया है। जो बच्चे बाहर से स्कूल में पढऩे आते हैं, उनके परिजनों को भी जांच की जाएगी और उनसे संपर्क कर अपील की गई है कि वह जब तक जांच रिपोर्ट नहीं मिले, तब तक सतर्कता बरतें तथा अपने घरों में ही होम क्वारेनटाइन रहें। गौरतलब है कि प्रदेश में एक बार फिर से संक्रमितों की संख्या बढने लगी है।

LEAVE A REPLY